नई दिल्ली: रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने टेस्ट क्रिकेट में ओपनर के तौर पर अपने रोल का काफी लुत्फ उठाया है लेकिन ऑस्ट्रेलिया (Rohit Sharma) के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज में वह टीम मैनेजमेंट की मांग के मुताबिक बैटिंग ऑर्डर में अपने स्थान को लेकर लचीला होने के लिए तैयार हैं.  कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) के एडिलेड टेस्ट के बाद भारत लौटने के बाद टेस्ट उप कप्तान अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा के साथ बड़ी भूमिका निभाने की उम्मीद है.

यह भी पढ़ें- IPL 2020 के बाद Suryakumar Yadav को मिला मां का आशीर्वाद, देखिए तस्वीर

रोहित ने कहा, ‘मैं आपको वही चीज कहूंगा जो मैंने सभी को कहा है. जहां भी टीम चाहती है, मैं वहां बल्लेबाजी करने को तैयार हूं लेकिन मैं नहीं जानता कि वो सलामी बल्लेबाज के तौर पर मेरी भूमिका बदलेंगे या नहीं.’

उनका मानना है कि जब तक वह बेंगलुरु में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में ‘स्ट्रेंथ एवं कंडिशनिंग’ ट्रेनिंग के बाद ऑस्ट्रेलिया पहुंचेंगे, तब तक टीम प्रबंधन ने उनकी भूमिका तय कर ली होगी. उन्हें आईपीएल के दौरान मामूली हैमस्ट्रिंग चोट लग गई थी. रोहित ने कहा, ‘मुझे पूरा भरोसा है कि ऑस्ट्रेलिया में पहुंचे टीम प्रबंधन ने विराट के जाने के बाद विकल्प पहचान लिए होंगे और कौन खिलाड़ी हैं जो पारी का आगाज करेंगे.’

उन्होंने कहा, ‘एक बार मैं वहां पहुंच जाऊं, मुझे स्पष्ट हो जाएगा कि क्या होगा. वे जिस स्थान पर चाहते हैं, मैं उस स्थान पर बल्लेबाजी के लिये तैयार रहूंगा.’ हुक और पुल शॉट को खेलने वाले बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक रोहित का मानना है कि ऑस्ट्रेलियाई पिचों पर उछाल कभी कभार उतना बड़ा फैक्टर नहीं होता, जितना इसे बनाया जाता है.

उन्होंने कहा, ‘हम उछाल की बात करते हैं, पर्थ को छोड़कर, पिछले कुछ वर्षों में अन्य मैदानों (एडीलेड, एमसीजी, एससीजी) पर मुझे नहीं लगता कि इतना ज्यादा उछाल है.’ रोहित ने कहा, ‘अब, खासकर पारी का आगाज करते हुए, मुझे कट और पुल शॉट नहीं खेलने के बारे में सोचना होगा और जहां तक मुमकिन हो, मुझे ‘वी’ और स्ट्रेट शॉट खेलने पर ध्यान लगाना होगा.’
(इनपुट-भाषा)

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »