वॉशिंगटन:  अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के चुनाव में धांधली के आरोपों को एक और झटका लगा है. जॉर्जिया (Georgia) में हुई पुनर्मतगणना में भी जो बाइडेन (Joe Biden) ने जीत हासिल की है. स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि बाइडेन मामूली अंतर से चुनाव जीत गए हैं. 

रिपब्लिकन का गढ़ ध्वस्त
जॉर्जिया को रिपब्लिकन का गढ़ समझा जाता है, इसलिए जब नतीजे बाइडेन के पक्ष में आये तो डोनाल्ड ट्रंप ने उसे स्वीकार करने से इनकार कर दिया. हालांकि, अब यह स्पष्ट हो गया है कि जनता ने बाइडेन को ही वोट दिए हैं. जॉर्जिया के सेक्रेटरी ऑफ स्टेट ब्रैड रैफेंसपर (Brad Raffensperger) ने कहा कि ऑडिट से पुष्टि हो गई है कि मशीन द्वारा हुई वोटों की गिनती सही थी.

दिल्ली में कोरोना का कहर: एक दिन में सामने आए इतने हजार नए मामले, 118 लोगों की मौत

निराश हूं, लेकिन आंकड़ों पर विश्वास
उन्होंने आगे कहा कि दूसरे रिपब्लिकन की तरह मैं भी इस हार से निराश हूं, लेकिन मेरा मानना है कि नंबर झूठ नहीं बोलते. वोटों की जो संख्या आज हमें बताई गई है, मुझे उस पर विश्वास है. बता दें कि ब्रैड रैफेंसपर खुद को ट्रंप समर्थक करार देते आये हैं. 

ज्यादा अंतर नहीं
इस जीत के साथ ही बाइडेन लगभग तीन दशक बाद इस महत्वपूर्ण राज्य से जीतने वाले पहले डेमोक्रेट बन गए हैं. जॉर्जिया में बाइडेन ने 14,000 से अधिक मतों से चुनाव जीता था. पुनर्मतगणना में मामूली त्रुटी सामने आई, जिसकी वजह से उनकी जीत का अंतर 0.5 प्रतिशत रह गया. यानी उन्होंने बेहद मामूली अंतर से यहां जीत हासिल की है. 

ऐसा नहीं है
वहीं, जॉर्जिया के वोटिंग सिस्टम इम्प्लीमेंटेशन मैनेजर और रिपब्लिकन गेब्रियल स्टर्लिंग ने CNN को बताया कि मशीनों को लेकर कई शिकायतें मिली थीं, जिसमें सबसे प्रमुख यह थी कि मशीनों में वोट बदल गए हैं. लेकिन ऐसा कम से कम जॉर्जिया के मामले में तो बिल्कुल नहीं है और यह हमने साबित कर दिया है.

VIDEO

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »