Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वॉशिंगटनएक घंटा पहले

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के केनेडी स्पेस सेंटर से रविवार रात इंटरनेशनल स्पेस सेंटर के लिए लिफ्ट ऑफ होता स्पेसएक्स का अनमैन्ड स्पेसक्राफ्ट।

अमेरिकी स्पेस कंपनी स्पेसएक्स ने इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (ISS) पर गए अपने चार एस्ट्रोनॉट को धरती से न्यू ईयर गिफ्ट भेजा है। यह कंपनी के कार्गो ड्रैगन कैप्सूल स्पेसक्राफ्ट से भेजा गया है। आज यह स्पेसक्राफ्ट ISS पहुंच जाएगा और एस्ट्रोनॉट्स को उनका गिफ्ट डिलिवर कर देगा। रविवार देर रात अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के केनेडी स्पेस सेंटर से फाल्कॉन 9 रॉकेट के जरिए इसे लॉन्च किया गया था।

इसका लिफ्ट ऑफ कामयाब रहा। फिलहाल यह तेजी से स्पेस स्टेशन की ओर बढ़ रहा है। सोमवार रात 12 बजे तक वहां पहुंच जाएगा। यह पहला मौका है जब स्पेसएक्स ने किसी स्पेसक्राफ्ट के साथ दो ड्रैगन कैप्सूल भेजे हैं। कंपनी के इस कार्गो स्पेसक्राफ्ट का आकार भी पहले की तुलना में बड़ा है। इसके जरिए कुछ दूसरे जरूरी सामान भी भेजे गए हैं।

13 नवंबर को ISS पहुंचे थे स्पेसएक्स के 4 एस्ट्रोनॉट

स्पेसएक्स के 4 एस्ट्रोनॉट 13 नवंबर को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन पहुंचे थे। यह मिशन स्पेसएक्स के क्रू ड्रैगन स्पेसक्राफ्ट के जरिए पूरा किया गया था।क्रू ड्रैगन की यह पहली ऑपरेशनल उड़ान थी। स्पेस स्टेशन जाने वाले अमेरिकी अंतरिक्ष यात्रियों में माइकल हॉपकिंस, विक्टर ग्लोवर और शैनन वॉकर शामिल थे।

उनके साथ जापान के सोइची नोगुची भी फ्लोरिडा के कैनेडी स्पेस सेंटर से रवाना हुए थे। ये सभी स्पेस स्टेशन में दो रूसी और एक अमेरिकी एस्ट्रोनॉट के साथ हैं। अगले पांच महीनों तक सभी एस्ट्रोनॉट वहीं रहेंगे।

नासा से सटिफाइड हो चुका है है क्रू ड्रैगन

स्पेसएक्स का क्रू ड्रैगन नासा से नवंबर में ही सर्टिफाइड हो चुका है। यह लगभग 40 साल बाद नासा से सर्टिफाइड होने वाला पहला अंतरिक्ष यान है। इसकी बनावट एक कैप्सूल जैसी है। इसे बार बार इस्तेमाल में लाए जा सकने वाले स्पेसएक्स के फाल्कन 9 रॉकेट से लॉन्च किया जा सकता है। स्पेसएक्स के सीईओ एलन मस्क ने 2002 में यह कंपनी बनाई थी।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »