• Hindi News
  • Business
  • Sunil Mittal Becomes Executive Chairman Of OneWeb Company Exits Bankruptcy

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

​​​​​​​वनवेब में UK सरकार और भारती ग्लोबल ने 42.2% (प्रत्येक) हिस्सेदारी ली है, अन्य निवेशकों की हिस्सेदारी 15.6% है

  • भारती ग्लोबल और UK सरकार के कंसोर्टियम ने वनवेब के नए शेयरों में 1 अरब डॉलर का निवेश किया है
  • ह्यूजेस नेटवर्क सिस्टम्स (5 करोड़ डॉलर) और सॉफ्टबैंक (9 करोड़ डॉलर) ने भी वनवेब में निवेश करने की घोषणा की है

वनवेब ने भारती एंटरप्राइजेज के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल को एक्जीक्यूटिव चेयरमैन नियुक्त किया है। लो अर्थ ऑर्बिट (LEO) सैटेलाइट कम्युनिकेशन कंपनी अब बैंक्रप्सी से बाहर निकल चुकी है। कंपनी 2021 के आखिर से कमर्शियल कनेक्टिविटी सर्विस शुरू करेगी।

UK सरकार और भारती ग्लोबल के कंसोर्टियम ने वनवेब के नए शेयरों में 1 अरब डॉलर का निवेश किया है। इससे कंपनी US चैप्टर 11 बैंक्रप्सी से बाहर निकल गई है। ह्यूजेस नेटवर्क सिस्टम्स (5 करोड़ डॉलर) और सॉफ्टबैंक (9 करोड़ डॉलर) ने भी वनवेब में निवेश करने की घोषणा की है। वनवेब में अब UK सरकार और भारती ग्लोबल 42.2 फीसदी (प्रत्येक) हिस्सेदारी हो गई है। अन्य निवेशकों की हिस्सेदारी 15.6 फीसदी है।

वनवेब 2021 व 2022 में सैटेलाइट्स लांच करती रहेगी

वनवेब ने नील मैस्टर्सन को CEO नियुक्त करने की भी घोषणा की, जो इससे पहले थॉमसन रायटर्स में को-चीफ ऑपरेटिंग ऑफीसर थे। इसके अलावा कंपनी ब्रिटिश सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर 2 नॉन-एक्जीक्यूटिव बोर्ड सदस्यों की नियुक्त की घोषणा करने वाली है। कंपनी के बयान के मुताबिक 2021 और 2022 में सैटेलाइट की लांचिंग होती रहेगी और कंपनी 2021 के आखिर से UK और आर्कटिक रीजन में कमर्शियल कनेक्टिविटी सर्विसेज देने के लिए तैयार है। साथ ही कंपनी 2022 में ग्लोबल सर्विसेज के लिए कारोबारी विस्तार करेगी।

कंपनी ब्रॉडबैंक वायरलेस सर्विस की लागत घटाने पर काम करेगी

मित्तल ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि पूरी दुनिया में ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी की मांग बनी हुई है और हम वनवेब के सोशल मिशन को जारी रखना चाहते हैं। कंपनी सर्विस की लागत घटाने और लो लैटेंसी ब्रॉडबैंड प्रॉविजन के नए यूज केसेज को खोलने पर काम करेगी। भारती ग्लोबल भारती एंटरप्राइजेज की ओवरसीज सब्सिडियरी कंपनी है।

कंपनी 2022 से भारत में भी ब्रॉडबैंड सेवा शुरू कर सकती है

वनवेब पूरी दुनिया में वायरलेस ब्रॉडबैंड सेवा देने के लिए अंतरिक्ष में अनेक सैटेलाइट्स स्थापित करने में लगी हुई थी, लेकिन इस प्रयास में वह दिवालिया हो गई। कंपनी अब 648 लो अर्थ ऑर्बिट सैटेलाइट्स के बल पर 2022 की शुरुआत तक भारत में अत्यधिक तेज रफ्तार वाली ब्रॉडबैंड सेवा देने की दिशा में काम कर रही है। इसके लिए भारती ने इसरो से सहायता मांगी है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »